Favorite Urdu Shayari: “हजारों ख्वाहिशें ऐसी” By मिर्जा गालिब

Whenever one thinks about Urdu Shayari and Poetry, the first and foremost comes to one’s mind the name of Mirza Ghalib, the greatest Urdu Poet. Ghalib (Urdu: غالب‎; Hindi: ग़ालिब) was born Mirza Asadullah Baig Khan on 27 December 1797, and died on 15 February 1869. Ghalib was a classical Urdu and Persian poet from the Mughal Empire during British colonial rule. He used his pen-names of Ghalib (means “dominant”) and Asad (means “lion”). Ghalib has been considered as the Emperor of Urdu Shayari, because of his mind boggling and significant contributions to Urdu Shayari.

Mirza Ghalib. Greatest Urdu Poet of All Times.

Mirza Ghalib. Greatest Urdu Poet of All Times.

Here is my favorite Shayari “हजारों ख्वाहिशें ऐसी” by Mirza Ghalib, the greatest Urdu Poet of all times. Enjoy.

हजारों ख्वाहिशें ऐसी कि हर ख्वाहिश पे दम निकले

हजारों ख्वाहिशें ऐसी कि हर ख्वाहिश पे दम निकले
बहुत निकले मेरे अरमाँ, लेकिन फिर भी कम निकले

डरे क्यों मेरा कातिल क्या रहेगा उसकी गर्दन पर
वो खून जो चश्म-ऐ-तर से उम्र भर यूं दम-ब-दम निकले

निकलना खुल्द से आदम का सुनते आये हैं लेकिन
बहुत बे-आबरू होकर तेरे कूचे से हम निकले

भ्रम खुल जाये जालीम तेरे कामत कि दराजी का
अगर इस तुर्रा-ए-पुरपेच-ओ-खम का पेच-ओ-खम निकले

मगर लिखवाये कोई उसको खत तो हमसे लिखवाये
हुई सुबह और घर से कान पर रखकर कलम निकले

हुई इस दौर में मनसूब मुझसे बादा-आशामी
फिर आया वो जमाना जो जहाँ से जाम-ए-जम निकले

हुई जिनसे तव्वको खस्तगी की दाद पाने की
वो हमसे भी ज्यादा खस्ता-ए-तेग-ए-सितम निकले

मुहब्बत में नहीं है फ़र्क जीने और मरने का
उसी को देख कर जीते हैं जिस काफिर पे दम निकले

जरा कर जोर सिने पर कि तीर-ऐ-पुरसितम निकले
जो वो निकले तो दिल निकले, जो दिल निकले तो दम निकले

खुदा के बासते पर्दा ना काबे से उठा जालिम
कहीं ऐसा न हो याँ भी वही काफिर सनम निकले

कहाँ मयखाने का दरवाजा ‘गालिब’ और कहाँ वाइज़
पर इतना जानते हैं, कल वो जाता था के हम निकले

- मिर्जा गालिब

About these ads

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s